Friday, 12 July 2013

Interview with shashi - hindi poetry

1.     Can you tell us a little about yourself? your blog , and your aspirations and your hobbies !!
उत्तरप्रदेश के जौनपुर में जन्मा हूँ, महाराष्ट्र के पनवेल में पला हूँ
डिग्रियों की मानू तो इंजीनियर और एम् बी हूँ
हरकतो से मै कवी हूँ, कभी कैमरा कभी कलम  
माध्यम अलग अलग हैं , पर दोनों से मै करता कविता ही हूँ
शौक बोलू या जिंदगी यही हैं कलम और कैमरा
पिछले दो साल से BHU में  MBA कर रहा  था
वहां से भी एक शौक ले आये हैं
घाट चाट गलियां बहुत घूमी, अब घुमक्कड़ हो चले हैं

दो ब्लॉग है मेरे "शशि की कविताये" (http://www.kavishashi.com/ )
और "नव भाचित्रक" (http://navbhachitrak.blogspot.in/)

जैसा मै हूँ वैसे मेरे ब्लॉग हैं
'मन की मर्जी पे मै थिरकने वाला
दूजे इशारो मै नाचता नहीं
जब भी धडकनों ने कही
कलम चल दी '

2.     How you first got involved in with blogging, are you an imaginative person?
भाई साहब मेरी जिंदगी से कल्पनाएँ निकल दीजिएगा तो हम हाड मांस का पुतला भर हैं
और मै क्या किसी की जिंदगी से निकल दीजिएगा तो वो भी हाड मांस  हो जाएंगे
बस फर्क ये है कुछ हम अपनी कल्पनाएँ कविताओं के माध्यम से जी लेते है


और रही बात ब्लोगिंग की
कविताएँ हम पांचवी क्लास से लिख रहे हैं, फिर ऑरकुट और फेसबुक पे ग्रुप बनाया
कुछ मित्रो ने कहा ब्लॉग खोल लीजिये, तब हमे लगता था ये ब्लॉग सेलेब्रिटी टाइप लोग लिखते होंगे हमे कौन पड़ेगा भला
धीरे धीरे अक्ल खुली और हमने अपना ब्लॉग शुरू किया

3.     What do you find most challenging about blogging about your topic?
शरुआत में तो हिंदी में टाइप करना ही बहोत बड़ी दिक्कत थी, रोमन में टाइप करते थे
रोमन स्क्रिप्ट में काव्य का पूरा रस मिल पता था
फिर हिंदी टाइप करने के लिए कई सोफ्टवेयर गए
तब से जिंदगी थोड़ी आसन हो गयी

बहुत ज्यादा लिख चूका हूँ अब तक 350+ कविताएँ
अब नए विषय तलाशना ही चैलेन्ज समझिये

4.     Tell me about some of the people you have met while working on your blog?
कुछ अच्छे मित्र बन गए है ब्लॉग के जरिये
आप हैं फिर पुनीत दुबे जी , आकांक्षा दुरेजा जी , अस्तेरिया'  कैनवस की रितिका जी  हैं
सुभोरूप जी ,अमित अग्रवाल जी , पांचाली सेनगुप्ता जी , सरू सिंघल जी और इंदु जी है
अच्छी खासी संगती हो गयी है, समान सोच के लोगो से जुड़ने में अच्छा ही लगता हैं

5.     How would (someone) describe your blogging style?
लोग कहते है कंटेम्पररी लिखता हूँ सरल भाषा में बात कहता हूँ
मेरे कवी मित्र प्रभात के शब्दों में कहू तो
"जिंदगानी के छोटे छोटे लम्हों में कविता ढूँढने वाले, बड़े भाई, काशी हिंदू विवि के प्रबंध संकाय के पूर्व छात्र और कवि शशि प्रकाश सैनी की कवितायेँ पढ़िए"

6.     What do you do when you are not working on your blog?
जब कविता नहीं करता तो
कैमरा उठा के घुमने निकल पड़ता हूँ
खाने और बनाने का शौक है
मौक बेमौका ये भी करता हूँ

7.     Where do you see yourself blogging wise in the next 6 months, and 5 years down the road?
अब तक पढ़ रहे थे तो फुर्सत थी ब्लॉग और कविता में कोई अड़चन थी
अब रोजगार की जदोजहद शुरू होनी है
आने वाले 6 महीनो में यही करना है की नौकरी और ब्लॉग का तालमेल बिठाना हैं

थोड़ी नजर कमजोर है मेरी बहोत ज्यादा दूर नहीं देख पता हूँ
पर इनता जरुर चाहूँगा कविता और ब्लॉग यूँ ही चलता रहे
एक किताब प्रकाशित करवा चूका हूँ
ये सही जगह पहुँच जाए फिर दूसरी का काम बढ़ाए

8.     What networking do you do that you feel helps your blogging business?
Indiblogger ने मेरे ब्लॉग का तो चेहरा ही बदल दिया है
कहा 18 महीने पहले ब्लॉग के 3000 पेज व्यूज भी थे आज 47000+ हैं
श्रोताओ और शुभचिंतकों से जुड़े रहने में फेसबुक भी काम आता है
तीन FB पेज हैं दो ब्लोग्स का और एक किताब का

9.     How do you keep coming up with material/content for your blog? Many people struggle with coming up with different articles/posts and they only have one blog.
"जो भी सनका देती है इस कवी को
लिख देता हू हर उस सनक पे
माटी की खुशबू पे
ज़िंदगी की जुस्तजू पे
या दिल की आरजू पे"

चाय से चाहत तक सब पे लिख चूका हूँ
अभी तक Writer's ब्लाक से सामना नहीं हुआ

10.  Whats your strategy with your blog in general?
कुछ सोच समझ के नहीं करता मेरे ब्लॉग और कविता का कारण
ये रहा

"सुबह मशीन बन
पेट की खातिर
ईंधन जुटाता हूँ
रात कविता करता हूँ
इंसान हो जाता हूँ
जैसे तन के लिए रोटी सुविधा हैं
मन के लिए कविता हैं "

11.  Any specific tips you have for newbie bloggers who want to make it in the blogosphere?
ब्लॉगर से ज्यादा कवी हूँ
नए कवियों के लिए यही सलाह हैं पहले अपने लिए लिखिए
कविता आपको पसंद आनी चाहिए

12.  What would you prioritize? Content? SEO? Traffic? Readers?
SEO हमे समझ नहीं आता
कविता अच्छी होगी श्रोता जाते है देर सवेर
फिर ट्रैफिक भी बन जाता हैं

13.  Whats the best thing a blogger can give to his readers?
अपने आप को जाहिर अभिव्यक्त करने का अनुभव
अपनी सोच दिखा सकता हूँ
उससे मिलने वाला आनंद जता सकता हूँ

कल को वो भी उठे कुछ लिखे
खुद को जाहिर करे

14.  A lot of people are interested in blogging for the money earning potential. What are some tips for people interesting in making money from blogging? What are some realistic expectations in regards to what can be made?
मैंने ब्लॉग ये कविताओं से अब तक तो पैसा कमाया नहीं
नहीं कभी कुछ खास कोशिश की हैं
ये काम मै मन के लिए करता हूँ
धन तो कई जरियों से कमाया जा सकता हैं

15.  What motivates you most in life?
देखिये लिखता तो मै पांचवी क्लास से हूँ
पर खुद को कवी हाल में बोलने लगा हूँ
किताब भी इसी दौरान छपवाई

ये सब हुआ बनारस के कारण
जिंदगी में एक नया हौसला एक नयी उमंग ले आया बनारस
"जो जिले जरा सी
उनसे तो ना छोड़ी जाए
और जो तरबतर है
काशी डूबे है
काशी घुले है
उनसे कैसे छोड़ी जाए

तन को है रोटी कपड़ा
रोटी जहाँ ले जाए
मन तो बसा है काशी
काशी ना छोड़ी जाए"

16. What has been your strategy for creating visibility to yourself and your blog?
हिंदी कविता के फेसबुक पेज और ग्रुप्स की मदद से ज्यादा लोगो तक पहुचने की कोशिश करता रहता हूँ

17.  What was the most challenging moment in your blog content development process and why?
जैसा मैंने पहले कहा मै
धडकता हूँ फडकता हूँ
और लिख देता हूँ
सोचता कम ही हूँ

18. Everyone has a favorite/least favorite post. Name yours and why?
कम पसंदीद ऐसा कुछ नहीं इस कवि के लिए
जो मुझे नहीं अच्छा लगता मै वो डालता ही नहीं ब्लॉग पे
हाँ ये है समय के साथ पुरानी कविताएँ नयी से दब जरुर जाती है

मेरी दिल के करीब कुछ कविताए हैं
पहली मेरे इंजीनियरिंग जीवन और हमरी शिक्षा व्यवस्था की खामी से जुडी हैं
मंदबुद्धि इंजिनियर (http://shashikekavita.blogspot.in/2012/01/blog-post_17.html#.T9hvrxfrodc)
दूसरी खुबसूरत चेहरों के पीछे दर्द को दर्शाती हैं
जब भी उसका मुस्कुराना हुआ (http://shashikekavita.blogspot.in/2012/05/jab-bhi-uska-muskurana-hua.html#.T9h2SNXkBQk)
तीसरी मेरा एक अनुभव है बनारस में
गर तुझको साधू होना हैं (http://www.kavishashi.com/2013/06/gar-tujhko-sadhu-hona-hai.html)

19. Name some of the bloggers whom you look up to and why?
कुछ ब्लोग्स हैं जिन्हें मै पढता हूँ नियमित तौर पे नहीं
पर पढना पसंद करता हूँ उन्हें

"मै मै ही रहू वही अच्छा
कोई और हो जाऊ
मुझे पहचानेगा कौन "

20. What is the story behind the name of the blog.
कोई कहानी नहीं कविता सीधी सरल कहता हूँ
इसलिए ब्लॉग का भी नाम सीधा "शशि की कविताएँ"
हाँ ये है की फोटोग्राफी ब्लॉग का नाम सोच समझ के रखा
नौसिखिया फोटोग्राफर हु इसलिए "नव भाचित्रक"

21. your connection with Indiblogger and the experience ?
Indiblogger  से मुझे श्रोता मिले साथी मिले
ट्रैफिक मिला और क्या मांगू
हाल में एक कविता पे ईनाम भी मिला

22.Which genre do you feel gets the raw deal?
दिल मेरी कमजोरी है
ज्यादा लाग लपेट नहीं करता हूँ
जिन्दगी में प्यार की कमी को मैंने कविताओ से भरने की कोशिश की है

"कब तक करेंगे सवाल
ये सवाली पन्ने
अकेलापन खटकता है
दिखे जब भी
खाली पन्ने
चुभते है सवाली पन्ने

कोई तो उभरे
अक्षर शब्द
पूरी कहानी बने
ख्यालों से कविताओं से निकले
पन्नें मेरे खाली रहे
हम दीवानें से
वो दीवानी बने
मोहब्बत मेरी भी कहानी बने"

23.Which one plugin would you suggest all bloggers to have?
जो अच्छा लगता है लगा देता हूँ कोई विशेष राय नहीं रखता

24.  Five adjectives that describe you.
कल्पनात्मक, कर्मठ, भावुक, सरल और मनमौजी

25. What book would you say has made the biggest impact  good or bad on you?
दिनकर जी की "रश्मिरथी" और  हरिवंश जी की "मधुशाला"
इन दोनों काव्य संग्रह का सकारात्मक प्रभाव पड़ा हैं

26. Do you get easily provoked by positive/negative comments ??
तारीफ़ और आलोचन दोनों आइना है
दिखाएंगे नहीं
तो खुद की कमी खूबी जाऊंगा कैसे

तारीफ किसे नहीं अच्छी लगती
हमे भी अच्छी लगती है और अच्छा लिखने को प्रोत्साहित करती हैं

और आलोचना
सुधार का मौका हैं

27. Do you plan to write a book , as every bloggers dream it is ?
मै अपनी पहली किताब प्रकाशित कर चूका हूँ
किताब का नाम है "सामर्थ्य - अधिकार मेरा नभ पे होना"
ये यहाँ प्रिंट ओंन डिमांड उपलब्ध है (http://goo.gl/AVA4w)
और यहाँ Free download e-book के रूप में (http://goo.gl/3WwgT)

28.Are you a judgmental person , Do you prefer to take sides instead of standing neutral ?
मुझे जो सही लगता है मै उसके साथ खड़ा हो जाता हूँ
तमाशबिन बने रहना मुझे पसंद नहीं

29.  Your collaboration with other bloggers , are you much into social networking , tell us everything about it ?
अभी तक मैंने अपने ब्लॉग पे गेस्ट पोस्ट नहीं शुरू की
भविष्य में कर सकता हूँ
और ज्यादा लोगो के लिए गेस्ट पोस्ट लिखी भी नहीं
आप के लिए और Asteria's Canvass के लिए ही लिखी है

blogaton में सक्रिय रूप से भाग लेता हूँ
नए और अलग विषयो पे लिखा अच्छा लगता है इसलिए
आकांक्षा दुरेजा जी ने मेरी किताब रिव्यु भी की है

30.What genre attracts you the most and which genre you avoid ?
प्रेम प्यार इश्क मोहब्बत जो कह लीजिये ये ज्यादा आकर्षित करता है
व्यंग्य भी भाता है मुझे
हास्य पसंद बहोत है पर कुछ खास लिख नहीं पता हूँ

31.Your Views on Contests and increasing plagiarism ?
नक़ल नहीं अक्ल लगाए
"
झूठ की इटे झूठ की दीवार
झूठ का महल
जब नीव ही खोखली होगी
इमारत कब तक टिकेगी
जब सच बरसेगा पानी बनकर
या हवाओ मे आयेगा
झूठ के दस सर भी कम पड़ेंगे
जब सच पुर्षोतम हो जाएगा
तीर चलाएगा
झूठ तास का महल
ढह जाएगा

असली चेहरो मे घूमो
असली बात करो       
बंदर भी करलेता है नकल अच्छी
अंदर का बंदर
किसी दिन
उस्तरा गले पे घूमा देगा
सर बचेगा
ऐसे हालात करो
इंसान ही रहो बंदर बनो
असली चेहरा दिखाओ
असली बात करो"

32. Words for me and my blog or may be my new website http://www.mymagicjobs.com/p/contests.html
अच्छा प्रयास है जारी रखिये
मेरी शुभकामनाएं आपके साथ है







No comments:

Post a Comment

zz
x

Get Our Latest Posts Via Email - It's Free

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner